मनमर्जी से स्कूल पहुंच रहे शिक्षक,रसोइयों के भरोसे विद्यालय

मनमर्जी से स्कूल पहुंच रहे शिक्षक,रसोइयों के भरोसे विद्यालय

अमेठी (जायस) शिक्षा के स्तर को सुधारने के लिए शासन द्वारा तरह-तरह के प्रोजेक्ट आयोजित कर शिक्षा की गुणवत्ता को सुधारने के प्रयास किए जा रहे है। परंतु जिम्मेदार अधिकारियों की लापरवाही और स्कूल के समय पर नहीं खुलने के कारण शासन के प्रोजेक्ट सफल नहीं हो पा रहे हैं। शिक्षा का स्तर लगातार गिरता जा रहा है। ऐसा ही एक मामला बहादुरपुर विकासखंड की ग्राम पंचायत उड़वा स्थित प्राथमिक विद्यालय में देखने को मिला। जहां प्रधानाध्यापक एजाज अहमद की मनमानी के कारण विद्यालय समय पर नहीं खुल रहा है । जिसका खामियाजा स्कूल में पढ़ने के वाले बच्चों को भुगतना पड़ रहा है और उनकी पढ़ाई चौपट हो रही है।
जबकि विद्यालय खुलने का समय सुबह 9:30 से है, जब समय से विद्यालय न खुलने की सूचना पाकर ग्राम प्रधान भीम सिंह 10:15 बजे मौके पर पहुंचे तो नजारा सामने था,सभी बच्चे इस कड़क ठंढ में खुले मैदान में खेल रहे थे,कोई भी अध्यापक विद्यालय में मौजूद नहीं मिला,ग्राम प्रधान व ग्रामीणों का आरोप है कि विद्यालय अधिकांश दिनों विलंब से खुलता है, जिससे विद्यालय में पठन पाठन प्रभावित हो रहा है।
इस विषय पर रसोईया से पूछा गया तो उन्होंने बताया की चाभी विद्यालय की हम लोगो के पास रहती है और समय से आकर विद्यालय खोल देते हैं ।

Website Design By Mytesta +91 8809666000

Check Also

अमेठी पुलिस ने 15 लाख के गाँजे के साथ 3 तस्कर को किया गिफ्तार

🔊 Listen to this पुलिस अधीक्षक अमेठी द्वारा चलाए जा रहे “नशा मुक्त अमेठी अभियान” …